Download Our App

Follow us

Home » जबलपुर » यहां लोग गाल बजा रहे वहां राकेश सिंह ने शुरू कर दी जबलपुर के हक की लड़ाई., आंदोलन की चेतावनी से नहीं बल्कि जबलपुर की व्यावसायिक क्षमता के प्रस्तुतीकरण से पुनः प्रारंभ होगी उड़ानें– राकेश सिंह

यहां लोग गाल बजा रहे वहां राकेश सिंह ने शुरू कर दी जबलपुर के हक की लड़ाई., आंदोलन की चेतावनी से नहीं बल्कि जबलपुर की व्यावसायिक क्षमता के प्रस्तुतीकरण से पुनः प्रारंभ होगी उड़ानें– राकेश सिंह

सक्षम नेतृत्व है हमारा दो बड़ी विमानन कंपनियों के वाईस प्रेसिडेंट पहुँचें राकेश सिंह के निवास, हुई लंबी चर्चा

जबलपुर (जय लोक)
डुमना विमानतल से जब उड़ानों की संख्या कम होने का मामला जोर पकड़ रहा था हमने तभी कह दिया था कि हमारे वरिष्ठ नेता श्री राकेश सिंह सक्षम हैं और वे जबलपुर के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। अगले तीन दिनों में ही परिणाम हमारे सामने हैं और देश की दो प्रमुख विमानन कंपनियां स्पाइसजेट और इंडिगो एयरवेज के वाइस प्रेसिडेंट जबलपुर की उड़ानों के संबंध में चर्चा करने के लिए हमारे पूर्व सांसद और कैबिनेट मंत्री श्री राकेश सिंह से मुलाकात करने उनके दिल्ली स्थित आवास पर पहुंचे और यहां उनसे और  उड़ानों के संबंध में लंबी और विस्तृत चर्चा हुई । जबलपुर की स्थिति के बारे में विमान सेवा को लेकर सारे समीकरणों पर विस्तृत चर्चा की। भाजपा युवा मोर्चा के पूर्व नगर अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना के प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा नेता सोनू बचवानी ने कहा कि यह प्रमाण है इस बात का कि यहां पर लोग केवल उड़ानों के आंदोलन के नाम पर गाल बजा रहे हैं और वाहवाही लूटने का प्रयास कर रहे हैं, दूसरी ओर जबलपुर का प्रतिनिधित्व कर रहे और डुमना के विकास को गतिमान कर यहां तक लाने का कीर्तिमान रचने वाले वरिष्ठ नेता राकेश सिंह ने जबलपुर के हक की लड़ाई प्रारंभ कर दी। सभी जबलपुरवासियों को यह विश्वास रखना चाहिए कि केंद्र में 20 साल तक जबलपुर की आवाज बुलंद करने वाले अनुभवी नेता राकेश सिंह जबलपुर के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। आने वाले दो-तीन महीने में सभी बंद हो चुकी नियमित उड़ानों को प्रारंभ करने का कार्य हो जाएगा। हमारा नेतृत्व सक्षम है जो जबलपुर विमानतल को प्रदेश के दूसरे सबसे बड़े हवाई पट्टी वाला विमानतल बनवा सकता है 450 करोड़ की लागत से राष्ट्रीय विमानतल जैसी सभी सुविधाएं जबलपुर के डुमना विमानतल पर उपलब्ध करवा सकते हैं। खुद रुचि लेकर विमानन कंपनियों से प्रारंभिक दौर में चर्चा कर उन्हें जबलपुर से उड़ानें प्रारंभ करने के लिए रजामंद कर सकते हैं ऐसे हमारे नेता राकेश सिंह जबलपुर के डुमना विमानतल की उपेक्षा और जबलपुर की जनता के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। युवा नेता सोनू बचवानी ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधि विकास का लक्ष्य लेकर कार्य करते हैं। राकेश सिंह  के नेतृत्व  में जबलपुर में पिछले 20 सालों में क्या पाया यह स्पष्ट रूप से सभी के सामने है। फ्लाई ओवर,रिंग रोड, लगातार विकसित होता जबलपुर का महत्वपूर्ण रेलवे स्टेशन , यह सब भाजपा के कार्यकाल में जबलपुर को सौगात के रूप में मिला है और इसके कर्ताधर्ता राकेश सिंह बने जिन्होंने केंद्र और राज्य सरकार के बीच में सेतु निर्मित कर विकास कार्यों को गति प्रदान करवाई है।
दूसरी ओर दिल्ली निवास पर हुई उड़ानों के संबंध में पूर्व सांसद कैबिनेट मंत्री राकेश सिंह ने कहा कि जबलपुर से प्रभावित हुई कोई भी उड़ानें आंदोलन की चेतावनी से नहीं बल्कि जबलपुर की व्यावसायिक क्षमताओं का सही प्रस्तुतीकरण करके ही प्रारंभ करवाई जा सकती हैं। कोई भी विमानन कंपनी सरकार के अधीन नहीं है यह बड़े निजी उद्योग हैं जिनके बीच में आपसी प्रतिस्पर्धा रहती है। इसी के बीच उनके व्यावसायिक हितों की गारंटी सुनिश्चित कर बेहतर प्रस्तुतीकरण के माध्यम से सभी और पूर्व की उड़ानों को नियमित करने के विषय पर दोनों  विमान कंपनियों के सक्षम अधिकारियों से विस्तृत चर्चा हुई है।
जल्द ही इसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आएंगे।स्पाइसजेट एयरवेज के वाइस प्रेसिडेंट श्री देवाशीष शाहा एवं इंडिगो एयरलाइंस के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट श्री राजन मल्होत्रा व सीनियर मैनेजर पूनम पाटोदिया से जबलपुर की हवाई उड़ानों को लेकर विस्तृत चर्चा हुई।

पूर्व में भी प्रारंभ कराई थी डेक्कन,किंगफिशर, जेट एयरवेज और इंडिगो की उड़ानें

2004 में जब राकेश सिंह जबलपुर के सांसद के रूप में केंद्र सरकार के समक्ष जबलपुर का प्रतिनिधित्व कर रहे थे उस दौरान भी उन्होंने डेक्कन एयरवेज, किंगफिशर एयरवेज जेट एयरवेज और इंडिगो एयरवेज के अधिकारियों को जबलपुर आमंत्रित कर उनके व्यावसायिक हित सुरक्षित होने की संभावनाओं से अवगत कराने के बाद इन उड़ानों को प्रारंभ करवाया था।  कोरोना काल में आर्थिक परेशानियों के कारण  विमान निजी कंपनियों ने कुछ उडऩे जबलपुर से बंद की थीं।

जबलपुर के साथ पूरे महाकौशल को मिलेगा लाभ

युवा नेता सोनू बचवानी ने कहा कि हमारे वरिष्ठ नेता राकेश सिंह के इन प्रयासों का लाभ न सिर्फ जबलपुर जिले को बल्कि पूरे महाकौशल के अंतर्गत आने वाले सभी जिलों को मिलेगा। वर्तमान में पूरे महाकौशल क्षेत्र के हवाई यात्री जबलपुर के डुमना विमानतल से ही यात्रा करते हैं और देश के हर कोने में जाना चाहते हैं। राकेश सिंह के भी यही प्रयास हैं कि वह जबलपुर से देश के हर प्रमुख शहर की हवाई यात्रा संपर्क  स्थापित कर पाए और नियमित उड़ानें पुन: प्रारंभ हो पाए। स्पाइसजेट एयरवेज के वाइस प्रेसिडेंट श्री देवाशीष शाहा ने चर्चा के दौरान कैबिनेट मंत्री राकेश सिंह से कहा कि जेट एयरवेज ग्राउंड हो चुके विमान को पुन वापस लेने कार्य कर रहा है और अगले तीन महीना में स्पाइसजेट जबलपुर से दिल्ली जबलपुर से मुंबई की नियमित उडऩे प्रारंभ करेगी इसी के साथ ही जबलपुर से बेंगलुरु जबलपुर से अहमदाबाद जबलपुर से पुणे और कोलकाता के लिए भी क्यों 400 विमान की नियमित उड़ान प्रारंभ करने का विचार स्पाइसजेट करेगा।राकेश सिंह के दिल्ली निवास पर पहुंचे  इंडिगो एयरलाइंस के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट राजन मल्होत्रा ने कहा कि पुणे स्टॉल की उपलब्धता होते ही जबलपुर मुंबई की नियमित उड़ान शीघ्र प्रारंभ कर दी जाएगी श्री सिंह ने उनसे आग्रह किया कि जबलपुर से पूर्व की भांति अन्य शहरों के लिए भी नियमित उड़ान जल्द प्रारंभ करने पर कंपनी विचार करें और उन्हें कंपनी के व्यावसायिक हितों एवं जबलपुर की व्यावसायिक क्षमता से भी अवगत कराया। श्री मल्होत्रा ने अपनी कंपनी के सीनियर अधिकारियों से चर्चा कर इन सभी बिंदुओं पर जल सकारात्मक निर्णय का आश्वासन दिया है।
Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » जबलपुर » यहां लोग गाल बजा रहे वहां राकेश सिंह ने शुरू कर दी जबलपुर के हक की लड़ाई., आंदोलन की चेतावनी से नहीं बल्कि जबलपुर की व्यावसायिक क्षमता के प्रस्तुतीकरण से पुनः प्रारंभ होगी उड़ानें– राकेश सिंह
best news portal development company in india

Top Headlines

वीरांगना दुर्गावती के बलिदान दिवस पर दो दिवसीय आयोजन 22 को मैराथन और 24 जून को समाधि और प्रतिमा स्थल पर होंगे कार्यक्रम

जबलपुर (जयलोक) नगर निगम जबलपुर द्वारा दुर्गावती स्मृति रक्षा अभियान एवं मित्रसंघ-मिलन के संयोजन में वीरांगना रानी दुर्गावती के 461वें

Live Cricket