Download Our App

Follow us

Home » अपराध » शमीम हाजी के कबाडख़ाने में भीषण विस्फोट: आपत्तिजनक स्क्रैप  में सेना के गोला बारूद के खोखे भी मिले

शमीम हाजी के कबाडख़ाने में भीषण विस्फोट: आपत्तिजनक स्क्रैप  में सेना के गोला बारूद के खोखे भी मिले

जबलपुर (जयलोक)
अधारताल थाना क्षेत्र अंतर्गत खजरी खिरिया बायपास में रजा मेटल इंडस्ट्रीज में जोरदार धमाका हुआ। यह इंडस्ट्रीज शमीम कबाड़ी की बताई जा रही है। कबाडख़ाने में आज दोपहर 12 बजे जोरदार ब्लास्ट हुआ। ब्लास्ट इतना तेज था कि पूरे अधारताल क्षेत्र में पाँच किलोमीटर के दायरे में इस ब्लास्ट के झटके महसूस किए गए। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची और जाँच शुरू कर दी। मौके पर जाकर देखा गया तो कबाडख़ाने की छत उड़ चुकी थी। आसपास की दीवारें भी धमाके से भरभरा कर गिर गईं। चारों तरफ सिर्फ मलबा ही पड़ा हुआ है। इस विस्फोट के कारण आसपास के मकानों में भी दरारें आईं हैं।
ब्लास्ट का कारण यहाँ रखे एलपीजी एवं ऑक्सीजन गैस सिलेंडर का फटना बताया जा रहा है लेकिन ब्लास्ट की तीव्रता देखकर लोगों का कहना है कि यह गैस सिलेंडर नहीं कुछ और चीज का धमाका हो सकता है। पुलिस जब मौके पर पहुँची तो देखा कि कबाडख़ाना पूरी तरह से मलबे में तबदील हो चुका था। वहीं प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि यह धमाके 12 से 15 मिनट तक होते रहे।
लोगों को लगा भूकंप आया
धमाका इतना तेज था कि फैक्ट्री के पाँच किलो मीटर के दायरे में इसका कंपन महसूस किया गया। लोगों के घरों के खिडक़ी दरवाजे इस ब्लास्ट से हिल गए वहीं भूकंप की तरह घरों में कंपन महसूस की गई। अधारताल वासियों को लगा कि शहर में फिर भूकंप आया है। अपनी जान बचाने के लिए लोग अपने अपने घरों से बाहर निकल आए। काफी देर तक यही चर्चा होती रही कि भूकंप आया है। लेकिन जब बाद में अधारताल रहवासियों का पता चला कि फैक्ट्री में ब्लॉस्ट हुआ है तो वे भी हैरान रह गए। क्योंकि फैक्ट्री के आसपास का पाँच किलोमीटर का दायर इस ब्लास्ट से कांप गया था।
घरों की दीवारों में आईं दरारें
कबाडख़ाने में हुआ धमाका इतना तेज था कि पाँच किलो मीटर तक का एरिया दहल गया। ब्लास्ट का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पाँच किलोमीटर तक के एरिया में बने मकानों में दरारें आ गईं। वहीं कई घर भी क्षतिग्रस्त भी हुए है।
शमीम कबाड़ी को देख भडक़े लोग
हादसे के बाद जब कबाडख़ाने में हुए ब्लास्ट की सूचना पर शमीम कबाड़ी घटना स्थल पर पहुँचा तो उसे देख लोगों का गुस्सा भडक़ उठा। क्षेत्रीय लोगों ने उसके साथ मारपीट की। लेकिन पुलिस के हस्ताक्षेप के बाद लोगों को अलग कराया गया। लोगों का कहना है कि कई बार यहाँ कबाडख़ाने का अलग करने की मांग की जा चुकी है। लेकिन शमीम कबाड़ी इसके लिए तैयार नहीं हो रहा था।
देर से पहुँच दमकल वाहन
वहीं लोगों का गुस्सा उस वक्त और भडक़ गया जब सूचना मिलने के काफी देर बाद दमकल वाहन पहुँचे। इस दौरान क्षेत्रीय लोगों ने अपने स्तर पर आग बुझाने का प्रयास भी किया लेकिन वे सफल नहीं हुए।
बड़ी मात्रा में खरीदे  जाते हैं स्क्रेप
सूत्रों का कहना है कि शमीम कबाड़ी द्वारा व्यापक स्तर पर पूरे भारतवर्ष से स्के्रप की खरीदी और बिक्री की जाती है। शमीम कबाड़ी सिर्फ प्राईवेट सेक्टर से ही स्क्रेप नहीं खरीदता है बलिक रक्षा संस्थानों से भी व्यापक स्तर पर स्के्रप उसके द्वारा खरीदे जाते हैं। हादसे में एलपीजी सिलेंडर, ऑक्सीजन सिलेंडर के अलावा इन स्कै्रप में भी विस्फोट हुआ था। जिससे के कारण यह ब्लास्ट काफी जोरदार रहा।
कई वाहन भी  मलबे में दबे
हादसे के बाद जब पुलिस यहाँ पहुँची तो उन्हें मलबे में दबे कई वाहन मिले। वहीं मलबे में वाहनों के अलावा गैस सिलेंडर सहित अन्य सामग्री भी मिली है। इस सामग्री में सैना द्वारा उपयोग में लाई जाने वाली सामग्री के स्कै्रप भी बड़ी तादात में मिले हैं।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » अपराध » शमीम हाजी के कबाडख़ाने में भीषण विस्फोट: आपत्तिजनक स्क्रैप  में सेना के गोला बारूद के खोखे भी मिले