Download Our App

Follow us

Home » व्यापार » 45 समूह में 816 करोड़ में नीलाम होंगी 143 शराब दुकानें

45 समूह में 816 करोड़ में नीलाम होंगी 143 शराब दुकानें

75 प्रतिशत दुकानों का 15 प्रतिशत बढ़ोत्तरी

दर पर नवीनीकरण हुआ तो नहीं होंगे नए टेंडर

जबलपुर (जयलोक)
पूरे प्रदेश में इस बार शराब की दुकानों में 15 प्रतिशत की वृद्धि कर दी गई है। राज्य शासन ने शराब को महंगा कर अपना खजाना भरने का कदम उठाया है। अब नई शराब दुकान के आवंटन की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। 31 मार्च 2024 को शराब दुकानों का वर्तमान ठेका समाप्त हो जाएगा। 1 अप्रैल से नया ठेका 15 प्रतिशत दर वृद्धि के साथ आवंटित किया जाएगा। जबलपुर जिले में वर्तमान में 143 कंपोजिट शराब दुकान संचालित होती हैं। इन शराब दुकानों को 45 समूहों में बांटा गया है। अब आगामी 17 फरवरी तक लॉटरी सिस्टम से इन 45 समूह के लिए ऑफर आमंत्रित किए गए हैं। 15 प्रतिशत मूल्य वृद्धि के बाद अब जिले की इन दुकानों का ठेका कुल 816 करोड़ रुपए का होगा। नए वित्त वर्ष के लिए अगर वर्तमान ठेकेदारों द्वारा 75 प्रतिशत शराब दुकानों को नई बढ़ी हुई दरों से नवीनीकरण करवा लिया जाता है तो फिर टेंडर प्रक्रिया नहीं होगी। अगर ऐसा नहीं होता है तो फिर 45 समूह में बटी 143 शराब दुकानों के लिए नए सिरे से टेंडर प्रक्रिया की जाएगी, जिसमें बोली लगाकर शराब ठेकेदार ठेका ले पाएंगे।
अभी पूरी तरीके से इस बात का गुणा भाग लगाया जा रहा है कि मूल्य वृद्धि के बाद हर प्रकार की शराब भी महंगी हो जाएगी। महंगी शराब की बिक्री से आमदनी में क्या फर्क पड़ेगा और क्या नई दर पर ठेका लेना फायदेमंद रहेगा इन सभी बातों पर विचार विमर्श चल रहा है। सूत्रों का कहना है कि अगर इस वित्तीय वर्ष के लिए 75 प्रतिशत दुकानों का नवीनीकरण और लॉटरी प्रक्रिया से आवंटन हो जाता है तो शेष बची 25 प्रतिशत दुकानों के लिए टेंडर प्रक्रिया की जाएगी।
जिले के सहायक आबकारी आयुक्त रविंद्र मानिकपुरी के अनुसार जिले की शराब दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया प्रारंभ हुई है। नए मूल्य वृद्धि के साथ दुकानों का नवीनीकरण किया जाएगा। 75 प्रतिशत दुकान अगर नवीनीकरण की प्रक्रिया से राजस्व उपलब्ध करा देती हैं तो नवीनीकरण हो जाएगा वरना नए टेंडर आमंत्रित कर दुकानों का आवंटन किया जाएगा।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » व्यापार » 45 समूह में 816 करोड़ में नीलाम होंगी 143 शराब दुकानें
best news portal development company in india

Top Headlines

दुकानदारी का अड्डा बना कंट्रोल रूम कलेक्टर ने किया बंद : चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी बनकर बैठा था प्रभारी

जबलपुर (जय लोक) जिला कलेक्टर कार्यालय में कोरोना काल के समय सुविधा और जानकारी मोहिया कराने के उद्देश्य से एक

Live Cricket