Download Our App

Follow us

Home » जीवन शैली » अहिंसा रन फॉर डेमोक्रेसी ने रचा इतिहास, 25 हजार से ज्यादा लोगों ने की भागीदारी

अहिंसा रन फॉर डेमोक्रेसी ने रचा इतिहास, 25 हजार से ज्यादा लोगों ने की भागीदारी

जियो और जीने दो के संदेश के साथ दौड़ा शहर

जबलपुर (जयलोक)
जैन धर्म के चौबीसवें तीर्थंकर वर्धमान महावीर स्वामी भगवान के कालजयी संदेश ‘जियो और जीने दो’ को अंगीकार कर अहिंसा रन को गति दी गई। इसी तरह लोकतंत्र के धर्म मतदान को बढ़ाने के लिए रन फॉर डेमोके्रसी के आयोजन में आज रविवार को संस्कारधानी के व्यस्ततम व्यापारिक क्षेत्र कमामिया गेट पर सुबह छह बजे जनमेदिनी उमड़ पड़ी। जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गनाइजेशन, जीतो के पदाधिकारी व सदस्य जबलपुर के हर धर्म, हर उम्र के नागरिक, महिला, पुरुष, बच्चे, युवा एकत्र हुए। अहिंसा समर्थकों का रेला अहिंसा एवं डेमोके्रसी रन में प्रतिभागी बना। कलेक्टर दीपक सक्सेना, पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह, सीईओ जिला पंचायत जयति सिंह, निगमायुक्त प्रीति यादव ने रन को दौड़ कर पूरा किया। जिला प्रशासन, नगर निगम एवं जीतो के संयोजन में अहिंसा रन का आयोजन किया गया। जीतो के जोन चेयरमैन मप्र, छग चौधरी सुबोध जैन, चेप्टर चेयरमैन राजेश जैन जैनु, सचिव राहुल बडक़ुल के नेतृत्व में जीतो व यूथ विंग टीम अनुशासन का परिचय देते हुए नव प्रतिमान दर्ज किया, पिछले वर्ष से ज्यादा प्रतिभागियों ने इस रन में भाग लिया।
इस तरह आगे बढ़ी अहिंसा रन
भारत सहित विश्व के अनेक देशों में सक्रिय जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गनाईजेशन, जीतो के साथ जैन समाज के सभी संगठन कमानिया गेट पर एकत्र होकर प्रतिभागी बड़ा फुहारा, खजांची चौक, तुलाराम चौक, करमचंद चौक, तीन पत्ती, मालवीय चौक, लार्डगंज थाना होते हुए पुन: बड़ा फुहारा पहुंचे।
दूसरे शहरों व विदेश में भी हुई अहिंसा रन
अहिंसा रन का आयोजन भारत में जबलपुर सहित 67 व विदेशों में 28 स्थानों पर एक समय पर किया गया। जीतो, यूूथ विंग के अंकित जैन व सीए मयंक सिंघई ने बताया कि अहिंसा का वादा, लोकतंत्र का इरादा शीर्षक इस प्रकल्प में हजारों प्रतिभागियों का संकल्प लेना महत्वपूर्ण था। संयोजक आशीष कोठारी, संजीव चौधरी, शैलेश जैन ने कहा कि जबलपुर ने आज ताकत दिखा दी है अब हमें जबलपुर को भारत में मतदान में नंबर वन बनाना है। दिव्यांग प्रतिभागियों को सम्मानित करते हुए पवन समदडिय़ा ने बधाई देते हुए कहा की इनकी हिम्मत सराहनीय है यह हमारे लिए प्रेरणादायक हैं।
सर्वधर्म, संप्रदाय, जाति व वग के लोग हुए हमकदम
अहिंसा रन की विशेषता यह रही कि इसमें सकल जैन समाज के विभिन्न संगठनों, मंदिर न्यासों व गणमान्य नागरिकों के साथ-साथ बिना किसी भेदभाव के अन्य सभी धर्म, संप्रदाय, जाति व वर्ग के लोग शामिल हुए। जीतो महिला विंग की अध्यक्षा प्रीति जैन एवं विनीता बडक़ुल एवं मुक्ता जैन ने बताया कि इस रन की परिकल्पना जीतो लेडीज विंग ने की थी जिसे यूथ विंग का भरपूर सहयोग मिला।
दिव्यांगों में भी दिखा उत्साह
दिव्यांग बंधुओं ने भी अहिंसा रन में भाग लिया। कोई एक पैर से दौड़ को पूरा कर रहा था तो कोई तीन पहिया वाहन में, कुछ ना सुनने वाले बच्चे भी संगीत की धुन पर थिरक रहे थे। सभी विकलांग जनों को जीतो ने एवं युवराज गढ़वाल ने नगद पुरुस्कार दे कर सम्मानित किया गया। अमेरिका और देश के कई अन्य शहरों से भी प्रतियोगियों ने इस प्रतियोगिता में भाग लेने सुबह से ही कमानिया गेट पर एकत्र हो गए थे।
संगीत और रंगारंग कार्यक्रम
अनिद्यो जोशी, रागिनी जोशी, मृदुल घोष, सचिन उपाध्याय, सत्यम तिवारी की सुरमधुर धुनों के साथ हजारों की संख्या में उपस्थित प्रतिभागी झूमते नाचते और गाते रहे। जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ के चेयरमैन सुबोध जैन ने जिला प्रशासन, नगर निगम को आयोजन में सहभागिता के लिए धन्यवाद दिया।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » जीवन शैली » अहिंसा रन फॉर डेमोक्रेसी ने रचा इतिहास, 25 हजार से ज्यादा लोगों ने की भागीदारी
best news portal development company in india

Top Headlines

दुकानदारी का अड्डा बना कंट्रोल रूम कलेक्टर ने किया बंद : चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी बनकर बैठा था प्रभारी

जबलपुर (जय लोक) जिला कलेक्टर कार्यालय में कोरोना काल के समय सुविधा और जानकारी मोहिया कराने के उद्देश्य से एक

Live Cricket