Download Our App

Follow us

Home » Uncategorized » लोकसभा के लिए भाजपा में दावेदारों की भरमार

लोकसभा के लिए भाजपा में दावेदारों की भरमार

जबलपुर के साथ ही नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा में भी भाजपा के नए चेहरे लाये जाएंगे  

जबलपुर (जयलोक)
लोकसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी ने अपनी चुनावी तैयारियों को तेज कर दिया है। कल भाजपा के जबलपुर लोकसभा क्षेत्र के प्रभारी उच्च शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार और वरिष्ठ विधायक पूर्व मंत्री गोपाल भार्गव ने भाजपा के संभागीय मुख्यालय में लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा के उम्मीदवारों को लेकर बड़े स्तर पर रायशुमारी की। दोनों पर्यवेक्षकों ने भाजपा के शहर एवं जिला ग्रामीण क्षेत्र के 130 से ज्यादा पदाधिकारीयों से उनकी राय जानी। इन पर्यवेक्षकों ने जबलपुर लोकसभा के लिए राय देने वालों से पाँच-पाँच नामों की सूची भी माँगी। जबलपुर के सांसद राकेश सिंह अब अब विधानसभा का चुनाव लडक़र प्रदेश शासन में मंत्री भी बन चुके हैं। इसलिए अब जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा के उम्मीदवार के रूप में किसी नए चेहरे को सामने लाया जाएगा। कल जब पर्यवेक्षकों ने उम्मीदवारों को लेकर रायशुमारी की तो दावेदारों के नामों की भरमार नजर आई। भाजपा का जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से नया उम्मीदवार आना तो तय है। लेकिन किस्मत किसकी खुलती है यह देखने वाली बात होगी।
महिलाएं भी दावेदार  
जबलपुर लोकसभा क्षेत्र के लिए भाजपा के उम्मीदवार बनने की दौड़ में महिलाएं भी बढ़-चढक़र अपनी दावेदारी कर रही हैं। महिलाओं की ओर से यह माँग की जा रही है कि प्रधानमंत्री मोदी की महिला सशक्तिकरण की प्राथमिकता को ध्यान में रखकर जबलपुर से किसी महिला नेत्री को उम्मीदवार बनाया जाना चाहिए। कई महिला नेत्रियों ने विधिवत भाजपा संगठन को अपने बायोडाटा के साथ आवेदन भी भेज दिए हैं।
वीडी शर्मा का भी  नाम चर्चाओं में 
भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा का नाम भी दो दिनों से जबलपुर लोकसभा क्षेत्र के लिए सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वीडी शर्मा भाजपा के पदाधिकारी बनने के पहले विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी रहे हैं और उनका कार्य क्षेत्र भी जबलपुर ही रहा है। इस नाते उन्हें शहर का ही माना जाता है यह संभावना व्यक्त की जा रही है कि बीडी शर्मा को भी जबलपुर लोकसभा क्षेत्र से भाजपा अपना उम्मीदवार बना सकती है।
फैसला तो दिल्ली से ही होगा
भारतीय जनता पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं के बीच यह चर्चा आम है कि उम्मीदवारों के नाम के चयन की प्रक्रिया भले ही शुरू की गई है लेकिन उम्मीदवार कौन बनेगा इसका फैसला भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व ही करेगा। भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व ने इस बार विधानसभा चुनाव के लिए भी उम्मीदवारों के नाम तय किए थे इसलिए लोकसभा के उम्मीदवार भी केंद्रीय नेतृत्व की पसंद के ही बनेंगे यह भी तय माना ना जा रहा है।
नरसिंहपुर और छिंदवाड़ा  
जबलपुर के समीपवर्ती जिले नरसिंहपुर और होशंगाबाद को मिलाकर एक लोकसभा क्षेत्र बन चुका है। अभी तक लोकसभा के सांसद रहे उदय प्रताप सिंह  गाडरवारा से विधायक बनकर प्रदेश शासन में मंत्री भी बन चुके हैं।
इसलिए अब नरसिंहपुर होशंगाबाद सी क्षेत्र से भी भाजपा का कोई नया चेहरा ही सामने आएगा। भाजपा के लिए और विशेषकर केन्द्रीय नेतृत्व के लिए छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र प्रतिष्ठा का क्षेत्र बन गया है। छिंदवाड़ा लोकसभा क्षेत्र में लंबे समय से काबिज कांग्रेस वरिष्ठ नेता कमलनाथ का कब्जा आज भी बरकरार है। लेकिन भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व और गृहमंत्री अमित शाह खुद लोकसभा छिदवाड़ा की प्रदेश में कांग्रेस की एकमात्र सीट को कांग्रेस से छीनना चाहते हैं इसके लिए अलग से रणनीति बन रही है और भाजपा किसी दिग्गज नेता को छिंदवाड़ा से चुनाव मैदान में उतार सकती है।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » Uncategorized » लोकसभा के लिए भाजपा में दावेदारों की भरमार