Download Our App

Follow us

Home » कानून » नियमों का पालन नहीं, तो रद्द होंगे लाइसेंस, जब्त होगा पटाखे का माल-कलेक्टर सक्सेना

नियमों का पालन नहीं, तो रद्द होंगे लाइसेंस, जब्त होगा पटाखे का माल-कलेक्टर सक्सेना

 41 फटाखा  लाइसेंस का तय होगा भविष्य

जबलपुर (जयलोक)। प्रदेश के हरदा जिले में भीषण हादसे के बाद कई लोगों की जान गई, सैंकड़ों लोग घायल हुए। हादसे के बाद पूरे प्रदेश के जिला प्रशासन हरकत में आ गया और अपने-अपने जिलों में मौजूद पटाखा व्यापारियों द्वारा संचालित की जा रही दुकानों, गोदामों और निर्माण करने वाली फैक्ट्रियों पर छापामार शैली में कार्रवाई कर जांच पड़ताल की गई। जबलपुर में नगर निगम द्वारा आवंटित भूमि पर कठौंदा के पास बसाया गया पटाखा बाजार प्रशासन के निशाने पर आया और जब प्रशासन की टीम ने यहां दस्तक दी तो यहां पर काफी अनिमितायें पाई गईं। जिसके बाद कलेक्टर दीपक सक्सेना ने मौके पर पहुँचकर स्थितियों का जायजा लिया और तत्काल सभी 41 दुकानों को सील करने के निर्देश दिए। सभी दुकानदारों को आज सोमवार तक का समय स्टॉक किए गए पटाखे और सुरक्षा नियमों के पालन के संबंध में दस्तावेज प्रस्तुत करने के लिए दिया गया है। अगर आज शाम तक पटाखा व्यापारियों द्वारा उपरोक्त माल के संबंध में उचित और सही दस्तावेज प्रस्तुत नहीं किए जाते तो इन दुकानों के खिलाफ  वैधानिक कार्यवाही की जाएगी। इस संबंध में जिला कलेक्टर दीपक सक्सेना ने जय लोक से चर्चा करते हुए कहा कि पटाखा व्यापारियों को शासन के द्वारा नियम और शर्तों के तहत लाइसेंस जारी किए हैं। नियमों और शर्तों का पालन करना अनिवार्य होता है। अगर व्यापारियों द्वारा नियमों और शर्तों का पालन नहीं किया जा रहा है, सुरक्षा के मानकों को पूरा नहीं किया जा रहा तो प्रशासन नियमानुसार कार्यवाही करेगा। इसके तहत बिना दस्तावेजों के स्टॉक किए गए अवैध पटाखे के भंडारण को जप्त करने की कार्रवाई भी की जाएगी और लाइसेंस निरस्त भी किए जाएंगे। इसी बीच अधिकारियों के कार्य क्षेत्र में फेरबदल कर दिया है जिला प्रशासन ने जिसके कारण लाइसेंस और दस्तावेज से संबंधित मांगी गई कार्य जमा करने के लिए व्यापारियों को 1-2 दिन का समय और मिल सकता है।

कई जगह पकड़ा गया स्टॉक – अवैध पटाखा कारोबारी के खिलाफ  जिला प्रशासन ने जब कार्यवाही प्रारंभ की तो रांझी सहित कई क्षेत्रों में स्टॉक कर रखे गए अवैध पटाखे के जखीरे को जिला प्रशासन और पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई के दौरान बरामद किया। रांझी, गोरखपुर, हनुमान ताल, बेलबाग आदि क्षेत्रों से लाखों रुपए के पटाखे अवैध रूप से स्टॉक किए गए, पाए गए जिन्हें जप्त किया गया।

सुरक्षा के पूरे किए मानक, दस्तावेज तैयार
जिला प्रशासन द्वारा कठौंदा पटाखा बाजार स्थल के लिए जारी किए गए सुरक्षा से संबंधित सभी निदेर्शों का पालन कर लिया गया है, सुरक्षा की व्यवस्था और यंत्र आदि लगा दिए गए हैं। मांगे गए दस्तावेज भी तैयार है। जल्द ही प्रशासन को सौंप दिए जाएंगे।
नीरज केसरवानी अध्यक्ष
जबलपुर पटाखा व्यापारी संघ

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » कानून » नियमों का पालन नहीं, तो रद्द होंगे लाइसेंस, जब्त होगा पटाखे का माल-कलेक्टर सक्सेना