Download Our App

Follow us

Home » राजनीति » छिंदवाड़ा के कार्यक्रम रद्द किए, भोपाल होकर दिल्ली रवाना भाजपा में हो सकते हैं शामिल कमलनाथ-नकुलनाथ

छिंदवाड़ा के कार्यक्रम रद्द किए, भोपाल होकर दिल्ली रवाना भाजपा में हो सकते हैं शामिल कमलनाथ-नकुलनाथ

भोपाल/छिंदवाड़ा (जयलोक)
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं। उन्होंने शनिवार को अपना छिंदवाड़ा दौरा रद्द किया और भोपाल होकर दिल्ली के लिए रवाना हुए। उनके साथ उनके सांसद बेटे नकुलनाथ भी दिल्ली जा रहे हैं। इस दौरे को लेकर प्रदेश की राजनीति में भूचाल आ गया है। दिल्ली में शनिवार से भाजपा का राष्ट्रीय अधिवेशन शुरू हो रहा है। ऐसे में कमल नाथ के भाजपा में शामिल होने की अफवाहों का बाजार गर्म हो गया है। कहा जा रहा है कि कमल नाथ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं से मिल कर आगे की रणनीति बना सकते हैं। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि राजधानी दिल्ली स्थित भारत मंडपम में भाजपा का दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन आज शुरु हुआ है। इस कार्यक्रम में पार्टी के सभी स्तरों के नेता शामिल हो रहे हैं। मप्र के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव भी आज सुबह ही दिल्ली रवाना हुए हैं। ऐसे में कांग्रेस से असंतुष्ट नेताओं के साथ ही कमल नाथ  दिल्ली में कोई बड़ा खेला कर सकते हैं।
राजनीतिक सूत्रों का दावा है कि छिंदवाड़ा में कमलनाथ और उनके सांसद बेटे नकुल नाथ ने शुक्रवार को अपने समर्थकों के साथ बैठक की। उनसे भाजपा में जाने को लेकर रायशुमारी की गई। इसके बाद उनके भाजपा में शामिल होने की संभावनाओं को बल मिल गया है। पूर्व मुख्यमंत्री ने जिन नेताओँ से बात की है, उनमें गोविंद राय, विश्वनाथ ओकटे, दीपक सक्सेना और सुनील जायसवाल के साथ-साथ अरुणोदय चौबे और रामू टेकाम एवं अऩ्य नेता शामिल थे। इन नेताओं के साथ बंद कमरे में चर्चा के बाद अटकलों का बाजार गरमा गया है कि कमलनाथ और उनके सांसद बेटे नकुल नाथ भाजपा में शामिल होने वाले हैं। हालांकि, कांग्रेस के छिंदवाड़ा जिला अध्यक्ष विश्वनाथ ओकटे ने कहा कि यह सिर्फ चर्चा है। ऐसा कुछ नहीं होने वाला है। कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ के साथ दोपहर दिल्ली के लिए रवाना हो गए।
लगातार मिल रहे हैं संकेत
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ-साथ भाजपा के कई वरिष्ठ नेता कह चुके हैं कि कमलनाथ का पार्टी में स्वागत है। शर्मा ने कहा था कि कांग्रेस ने राम मंदिर उद्घाटन कार्यक्रम का विरोध किया। इस विरोध के चलते जिन कांग्रेसियों के मन में कोई पीड़ा है और वह भाजपा में शामिल होना चाहते हैं, तो उनके लिए दरवाजे खुले हुए हैं। उनका स्वागत है। इससे पहले  पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने इंदौर में कहा था कि कमलनाथ भगवान राम का नाम लें और भाजपा में शामिल हो जाए। भाजपा प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कमलनाथ और नकुल नाथ की तस्वीर सोशल मीडिया पर अपलोड की और लिखा जय श्री राम।

19 को कमलनाथ और नकुलनाथ करेंगे  रामलला के दर्शन
पूर्व सीएम कमलनाथ और नकुलनाथ रामलला के दर्शन करने अयोध्या जाएगी। जानकारी के अनुसार पिता-पुत्र दोनों 19 फरवरी को रामलला के दर्शन करने अयोध्या जाएंगे। हालांकि अभी इसको लेकर उनकी तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है।
भाजपा प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने सोशल मीडिया में कहा
कमल नाथ के भाजपा में शामिल होने वाली अफवाहों के बीच भाजपा प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने सोशल मीडिया में एक पोस्ट करते हुए संकेत दिया है कि वो कमल नाथ के साथ ही नकुलनाथ के पार्टी में शामिल होने का स्वागत करते हैं।
दरअसल सलूजा ने सोशल मीडिया पर कमल नाथ और नकुल नाथ की फोटो लगाकर पोस्ट में लिखा है, जय श्री राम!। एक तरह से यह लिखकर नरेंद्र सलूजा ने कमल नाथ का पार्टी में सांकेतिक स्वागत ही कर दिया है। इसके विपरीत राजनीतिज्ञ ऐसे किसी भी अफवाह को सिरे से खारिज कर रहे हैं और बता रहे हैं कि कमल नाथ या नकुल नाथ कांग्रेस छोड़ कर कहीं नहीं जा रहे हैं।
जहां तक कमल नाथ के दिल्ली दौरे का सवाल है तो वह उनका अपना निजी दौरा भी हो सकता है, हर मामले को यूं राजनीति से जोडक़र देखना भी अतिश्योक्ति में आता है। अब देखना होगा कि ऊंट किस करवट बैठता है, क्योंकि राजनीतिक गलियारे में अफवाह तो यही है कि कमल नाथ या तो खुद भाजपा में जाएंगे या नकुल नाथ को भेजेंगे।

कमलनाथ कांग्रेस के कार्यक्रम में नहीं दिख रहे
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर लंबे समय से चर्चा चल रही है। कुछ दिन पहले उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने का समय लिया था। इसके बाद से ही अटकलें तेज हो गई हैं कि वह भाजपा में शामिल हो सकते हैं। कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव कमलनाथ के चेहरे पर लड़ा था। हार के बाद केंद्रीय नेतृत्व ने अचानक प्रदेश संगठन में बदलाव किया। कमलनाथ को विदा किया और जीतू पटवारी को प्रदेश अध्यक्ष बना दिया। इसके बाद से उनके नाराज होने की चर्चा चल रही थी। वह पिछले कुछ समय से पार्टी के कार्यक्रमों में भी दिखाई नहीं दिए। यहां तक कि कांग्रेस से राज्यसभा के उम्मीदवार अशोक सिंह के नामांकन के दौरान विधानसभा में मौजूद नहीं रहे थे।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » राजनीति » छिंदवाड़ा के कार्यक्रम रद्द किए, भोपाल होकर दिल्ली रवाना भाजपा में हो सकते हैं शामिल कमलनाथ-नकुलनाथ
best news portal development company in india

Top Headlines

राम मंदिर को उड़ानें की धमकी, जैश ए मोहम्मद ने ऑडियो जारी कर दी चेतावनी, पुलिस अफसर बोले- ऐसी कोई सूचना नहीं

भोपाल (एजेंसी/जयलोक)। अयोध्या में राम मंदिर पर आतंकी हमले की धमकी की खबर आ रही है। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक,

Live Cricket