Download Our App

Follow us

Home » जीवन शैली » विश्व का सर्वश्रेष्ठ अनाज है श्रीअन्न : मंत्री प्रहलाद पटेल

विश्व का सर्वश्रेष्ठ अनाज है श्रीअन्न : मंत्री प्रहलाद पटेल

भोपाल (जयलोक)
पंचायात, ग्रामीण विकास एवं श्रम मंत्री प्रहलाद पटेल ने नरसिंहपुर में अन्न प्रोत्साहन मेला में कहा कि इस समय लोगों को खिलाने के लिए मिलेट एक सस्ता और पौष्टिक विकल्प है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में मिलेट को बढ़ावा दिया जा रहा है। वर्ष 2017 में दुबई में आयोजित वल्र्ड फ़ूड फ़ेस्टिवल में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि विश्व को भुखमरी से बचाने के लिए हमें मोटे अनाजों की तरफ़ जाना होगा। प्रधानमंत्री ने 2018 में मोटे अनाज को पोषक-अनाज घोषित किया गया था। भारत के इन्हीं प्रस्ताव और प्रयासों के बाद ही संयुक्त राष्ट्र ने 2023 को ‘इंटरनेशनल मिलेट इयर’ घोषित किया है। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में जी 20 सम्मेलन में आए विदेशी मेहमानों को प्रदान किए गए नाश्ते एवं भोजन में मिलेट्स को ही शामिल किया गया था। मंत्री पटेल ने मिलेट्स की उपयोगिता को समझाते हुए कहा कि मिलेट्स की खेती सर्वश्रेष्ठ है जो मानव और मिट्टी, दोनों के स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने की गारंटी देती है। इसके गुणों को हमारे पूर्वज बखूबी जानते थे। जनजातीय बंधुओं के ख़ान पान का यह आज भी महत्वपूर्ण हिस्सा है। भारत में मिलेट्स या मोटे अनाज को अब श्रीअन्न की पहचान दी गई है। श्रीअन्न केवल खेती या खाने तक सीमित नहीं है। श्रीअन्न यानि कम पानी में ज्यादा फसल की पैदावार, श्रीअन्न यानि केमिकल मुक्त खेती का बड़ा आधार, श्रीअन्न यानि क्लाइमेट चेंज की चुनौती से निपटने में मददगार।
मंत्री पटेल ने कहा कि प्रतिकूल परिस्थितियों में भी मिलेट्स का आसानी से उत्पादन हो जाता है। इसकी पैदावार में अपेक्षाकृत पानी भी कम लगता है, जिसमें वॉटर क्राइसिस वाली जगहों के लिए यह एक पसंदीदा फसल बन जाती है। भारत के विभिन्न क्षेत्रों में प्रचलित ज्वार, बाजरा, रागी, कोदो, कुटकी जैसे अन्न का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि मिलेट भारत में सदियों से जीवनशैली का हिस्सा रहा है। जहां विश्व में एक तरफ़ खाद्य सुरक्षा की समस्या है तो वहीं दूसरी तरफ़ फूड हैबिट्स से जुड़ी बीमारियां,बीपी,डायबिटीज एक बड़ी समस्या बनती जा रही हैं। उन्होंने बताया कि श्री अन्न ऐसी हर समस्या का भी समाधान देते हैं, ज्यादातर मिलेट्स को उगाना आसान होता है, इसमें खर्च भी बहुत कम होता है और दूसरी फसलों की तुलना में ये जल्दी तैयार भी हो जाता है। इनमें पोषण तो ज्यादा होता ही है साथ ही स्वाद में भी विशिष्ट होते हैं। पहले मोटे अनाज को गऱीबों का अनाज कहकर मजाक उड़ाया जाता था लेकिन आज पूरी दुनिया ने माना है कि श्रीअन्न दुनिया का सर्वश्रेष्ठ अन्न है।
उत्पादकों, उपभोक्ताओं और अन्य हितधारकों के बीच मोटे अनाज के प्रचार और जागरूकता, उनकी मूल्य श्रृंखला का विकास, मिलेट के स्वास्थ्य और पोषण संबंधी पहलू, बाजार संपर्क, अनुसंधान और विकास आदि जैसे श्रीअन्न से संबंधित सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए पीजी कॉलेज नरसिंहपुर में श्रीअन्न (मिलेट्स) प्रोत्साहन मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। मेले का उद्घाटन पंचायत एवं ग्रामीण विकास व श्रम विभाग मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल द्वारा किया गया।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » जीवन शैली » विश्व का सर्वश्रेष्ठ अनाज है श्रीअन्न : मंत्री प्रहलाद पटेल
best news portal development company in india

Top Headlines

दुकानदारी का अड्डा बना कंट्रोल रूम कलेक्टर ने किया बंद : चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी बनकर बैठा था प्रभारी

जबलपुर (जय लोक) जिला कलेक्टर कार्यालय में कोरोना काल के समय सुविधा और जानकारी मोहिया कराने के उद्देश्य से एक

Live Cricket