Download Our App

Follow us

Home » Uncategorized » जिला अध्यक्ष ने खाये पैसे, प्रदेश अध्यक्ष नहीं देते समय , गद्दारों पर कांग्रेस नहीं करती कार्यवाही इसलिए छोड़ दिया

जिला अध्यक्ष ने खाये पैसे, प्रदेश अध्यक्ष नहीं देते समय , गद्दारों पर कांग्रेस नहीं करती कार्यवाही इसलिए छोड़ दिया

एकता ठाकुर सहित 3 ने थामा भाजपा का दामन, लगाए गंभीर आरोप

जबलपुर/भोपाल जय लोक

जबलपुर की एकमात्र आदिवासी रिजर्व सीट सिहोरा विधानसभा से हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की ओर से टिकट लेकर चुनाव लड़ी सुश्री एकता ठाकुर ने आज भाजपा का दामन थाम लिया है। एकता ठाकुर के साथ सिहोरा के दो कांग्रेस नेता मन्नू दीक्षित और आशीष पांडे ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर ली है। बहोरीबंद के भाजपा विधायक प्रणय पांडे ने इस कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उन्हीं के माध्यम से इन तीनों लोगों ने कांग्रेस छोड़ आज भोपाल में भाजपा की सदस्यता ली है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री राकेश सिंह, प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा, विधायक संजय पाठक आदि नेतागण उपस्थित थे।

महिला नेत्री ने जय लोक से चर्चा करते हुए बताया कि कांग्रेस छोड़ने के कई कारण है जिसमें सबसे प्रमुख कारण कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा हिंदू के आस्था के केंद्र श्री राम के मंदिर निर्माण के आयोजन का न्यौता ठुकराना है। इसके साथी कांग्रेस पार्टी में अनुशासनहीनता करने वालों पर कोई कार्यवाही नहीं होती और शिकायत करने वालों की कोई सुनवाई नहीं होती। चुनाव में उनके साथ हुई गद्दारी की भी शिकायत वह दो महीने से कर रही है लेकिन कोई भी वरिष्ठ नेता इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।
विधानसभा का चुनाव लड़ने वाली एकता ठाकुर ने जय लोक से चर्चा के दौरान खुलकर आरोप लगाया कि ग्रामीण जिला अध्यक्ष नीलेश जैन ने टिकट वितरण में दलाली की और टिकट दिलाने के नाम पर डॉ. संजीव बरकड़े से पैसे खाए। बाद में जब पार्टी ने एकता को टिकट दे दी तो फिर इन लोगों ने पार्टी से गद्दारी करते हुए प्रत्याशी को हराने के लिए डॉक्टर संजीव बरकड़े को निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतार दिया और उसका प्रचार किया। महिला नेत्री एकता ठाकुर ने कांग्रेस की वरिष्ठ महिला नेत्री जमुना मरावी पर भी निर्दलीय प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने और कांग्रेस के प्रत्याशी को हराने के लिए काम करने के गंभीर आरोप लगाए है।

अध्यक्ष नहीं देते समय ————
महिला नेत्री एकता ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस के नए प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी से लंबे समय से मिलने के लिए समय मांग रही हैं लेकिन उन्हें समय नहीं दिया जा रहा है। एकता ठाकुर ने कहा कि जब प्रदेश अध्यक्ष प्रत्याशी बनाए गए लोगों को ही समय नहीं दे सकते तो आम कार्यकर्ता की सुनवाई तो दूर की बात है। एकता ठाकुर यह भी कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा राम मंदिर कार्यक्रम का न्यौता ठुकरा देना भी उन्हें आहत कर गया है इस कारण भी उन्होंने पार्टी से दूरी बनाने का निश्चय किया।

 

अध्यक्ष बनने की शर्त पर हुई शामिल

एक चर्चा यह भी है कि एकता ठाकुर वर्तमान में जिला पंचायत की सदस्य हैं और पूर्व सदस्य संतोष बरकड़े अब विधायक बन चुके हैं। सोमवार को अध्यक्ष पद का निर्वाचन होना है। एकता इसी शर्त पर भाजपा में शामिल हुई है कि उन्हें जिला पंचायत का अध्यक्ष बनाया जाएगा।

Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » Uncategorized » जिला अध्यक्ष ने खाये पैसे, प्रदेश अध्यक्ष नहीं देते समय , गद्दारों पर कांग्रेस नहीं करती कार्यवाही इसलिए छोड़ दिया