Download Our App

Follow us

Home » कानून » आज मतदान के लिए कत्ल की रात : राजनीतिक दल और प्रशासन दोनों ही मतदान की आखिरी तैयारी में जुटे

आज मतदान के लिए कत्ल की रात : राजनीतिक दल और प्रशासन दोनों ही मतदान की आखिरी तैयारी में जुटे

जबलपुर (जयलोक)
2024 के लोकसभा चुनाव के लिए जबलपुर लोकसभा क्षेत्र का चुनाव पहले ही चरण में निपटने जा रहा है आज की रात को कत्ल की रात माना जा रहा है। आज देर रात तक चुनाव की तैयारियाँ भी चलती रहेंगी। जब मतदान के लिए कुछ ही घंटे बाकी रह गए हैं। मतदान के लिए राजनीतिक दलों विशेष कर भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ही एक-एक मतदान केंद्र और मतदान केंद्र के एक-एक बूथ पर मतदान के लिए जरूरी व्यवस्थाएं करने में लग गये हैं। वहीं प्रशासन ने भी मतदान के लिए पूरी तैयारी को बखूबी अंजाम दिया है। दूरस्थ मतदान केंद्रों पर तो आज ही मतदान दल पहुँच जाएंगे। वहीं शहरी क्षेत्र में भी मतदान दल अलसुबह पहुंचेंगे क्योंकि ठीक 7 बजे मतदान का कार्य शुरू हो जाएगा।
पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के चाक चौबंद इंतजाम किए हैं। मतदान केन्द्रों के बाहर जहाँ पुलिस के दल तैनात रहेंगे वहीं मतदान केन्द्र की व्यवस्था बनाने में भी पुलिस के दल मुस्तैद रहेंगे। पुलिस ने संवेदनशील मतदान केन्द्रों को भी चिन्हित कर लिया है। जहाँ पर पुलिस का विशेष प्रबंध रहेगा।
राजनैतिक दलों की तैयारियाँ
भारतीय जनता पार्टी और कांगे्रस दोनों ही मतदान के लिए अपनी तैयारियों को आज अंतिम रूप दे देंगे। मतदान केन्द्रों के भीतर राजनैतिक दलों के उम्मीदवारों के चुनावी एजेंट तैनात रहेंगे। वहीं मतदान केन्द्रों के बाहर निर्धारित दूरी से दूर भी भाजपा-कांगे्रस दोनों के ही उम्मीदवारों की ओर से कार्यकर्ताओं के बैठने की व्यवस्था की जाएगी। जहाँ ये कार्यकर्ता मतदाताओं का मार्गदर्शन करेंगे।
मतदान सामग्री का वितरण, मतदान दल रवाना
कल होने वाले मतदान के मद्देनजर आज गुरुवार की सुबह जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय परिसर से मतदान कराने नियुक्त मतदान दलों को चाक चौबंद और कड़ी सुरक्षा के बीच मतदान सामग्री वितरण किया गया। व्यवस्थायें इतनी बेहतर थीं कि तय कार्यक्रम के अनुसार सुबह लगभग 10 बजे से मतदान दलों की मतदान दलों की रवानगी भी प्रारंभ हो गई। आसपास के मतदान केंद्रों पर मतदान दलों का पहुंचना भी शुरू हो गया है। मतदान दलों को सामग्री वितरण के लिये तैनात किये गये कर्मचारी सुबह 4.30 के पहले जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय पहुँच चुके थे। मतदान सामग्री के साथ मतदान दलों को ईव्हीएम और व्हीव्हीपेट मशीन वितरित करने सुबह 4.30 बजे राजनैतिक दलों  तथा जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर दीपक सक्सेना, पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह की मौजूदगी में स्ट्रांगरूम खोले गये । ईव्हीएम और व्हीव्हीपेट मशीनों को सुरक्षा बलों सुरक्षित रखने विधानसभावार बने स्ट्रांगरूम को खोले जाने के दौरान सबंधित विधानसभा क्षेत्र के सहायक रिटनिंज़्ग अधिकारी भी उपस्थित थे ।
कलेक्टर रखें हैं नजर
कलेक्टर दीपक सक्सेना सामग्री वितरण व्यवस्था पर लगातार नजर रखे हुये हैं ।  उन्होंने सभी वितरण केंद्रों पर जाकर सामग्री वितरण व्यवस्था का जायजा लिया । पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह एवं अपर कलेक्टर श्रीमती मिशा सिंह भी इस दौरान उनके साथ थे। श्री सक्सेना सामग्री वितरण के दौरान मतदान कर्मियों से भी रू-ब-रू हुये, उनका हौसला बढ़ाया और सफलता पूर्वक मतदान कराने शुभकामनाएं दी। मतदान कर्मियों ने सामग्री वितरण व्यवस्था की तारीफ करते हुये कलेक्टर से कहा कि इससे उनमें उत्साह का संचार हुआ है और मनोबल भी बढ़ा है। सामग्री वितरण स्थल पर चिकित्सा दलों की भी सभी आवश्यक दवाओं के साथ तैनात किये गये थे।

ईवीएम से कल मतदाता उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे
18 लाख से अधिक मतदाताओं को मिला मतदान का अधिकार
लोकसभा चुनाव के तहत जबलपुर संसदीय क्षेत्र के निर्वाचन के लिए कल शुक्रवार 19 अप्रैल को होने वाल मतदान में जिले के आठों विधानसभा निर्वाचन क्षेत्रों के 18 लाख 96 हजार 346 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे तथा चुनाव लड़ रहे 19 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। मतदान जिले के सभी 2 हजार 139 मतदान केन्द्रों पर सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक होगा।
2 हजार 139 मतदान केन्द्रों पर डालेंगे वोट
जबलपुर संसदीय क्षेत्र के चुनाव के जबलपुर जिले में 9 सहायक मतदान केन्द्रों सहित कुल 2 हजार 139 मतदान केन्द्र बनाये गये हैं। इनमें पाटन विधानसभा क्षेत्र के 303, बरगी के 286, सात सहायक मतदान केंद्रों सहित जबलपुर पूवज़् के 231, जबलपुर उत्तर के 240, एक सहायक मतदान केंद्र सहित जबलपुर कैंट के 214, जबलपुर पश्चिम के 272, पनागर के 310 और एक सहायक मतदान केंद्र सहित सिहोरा विधानसभा क्षेत्र में 283 मतदान केन्द्र शामिल हैं।
Jai Lok
Author: Jai Lok

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Home » कानून » आज मतदान के लिए कत्ल की रात : राजनीतिक दल और प्रशासन दोनों ही मतदान की आखिरी तैयारी में जुटे